Ads (728x90)



Blog क्‍या है Blogging किसे कहते हैं आपने अक्‍सर सुना होगा कि बहुत से लोग Blog बनाकर अच्‍छी खासी Online Earning कर रहे हैं आपके मन में भी विचार आया होगा कि आखिर ये Blog क्‍या होता है तथा Blogging किसे कहते हैं क्‍या Blog से वाकई में Online Earning की जा सकती है और अगर हां तो एक Blog बनाने के लिए आपको किन-किन चीजों की जानकारी होना जरूरी है तथा एक Blog कैसे बनाया जाता है इन सभी प्रश्‍नों के उत्‍तर आपको इस Post में मिलने वाले हैं - What is Blog and How To Start Blog in Hindi 

What is Blog and how do Blogging in Hindi, Hindi Blogging, How To Start Blog

Blog क्या होता है और Blogging कैसे करते हैं - What is Blogging In Hindi

ब्लॉग क्या होता है - What is a Blog in Hindi

पुराने समय में बहुत सारे लोगों को अपने प्रतिदिन होने वाले अनुभवों को एक दैनन्दिनी या डायरी (Diary) में लिखने का शौक होता था वह रोज की घटनाओं को डायरी के उसी दिन के पेज पर Note करते जाते थे इस Page पर जानकारी के साथ Date एवं Time भी लिखा जाता था समय बदला और Internet का युग आया वर्ष 1999 में Google ने एक ऐसा Free Platform Launch किया जिस पर आप Digitally अपने दैनिक अनुभवों और विचारों को Internet पर Share कर सकते थे, अपने विचारों को Internet पर Digital विचारों को Share करने को ही Blog कहा गया है Blog को हिन्‍दी में चिट्ठा कहते हैं जिसमें आप अपने दैनिक क्रियाकलापों, किसी विषय से जुडे समाचार, रोचक और काम की जानकारियां और अपने विचार लिख सकते हैं Blog लिखने वाले व्‍यक्ति को ब्‍लॉगर ( Blogger ) इसको हिन्‍दी में चिट्ठाकार और ब्‍लॉग लिखने के कार्य को ब्‍लागिंग (Blogging) हिन्‍दी में चिट्ठाकारी अथवा चिट्ठाकारिता कहते हैं

अब Hindi Blogging का है जमाना

भारत में Blogging हिन्‍दी और अंग्रेजी में बहुत ज्‍यादा Popular है बहुत सारे लोग Blogging को अपने Career के रूप में Select कर चुके हैं Blogging में आप पैसा ही नहीं नाम भी बनाते हैं कहते हैं कि ड्रीम जॉब, नाम और पैसा तीनों चीजें किसी को एक साथ नहीं मिलती हैं लेकिन Blogging में कुछ ऐसा ही है, Blogger एक ऐसा Platform है जहां आप अपना मन चाहा Topic Select करके बहुत आगे तक जा सकते हैं बस जरूरत होती है मन में लगन तथा धैर्य की, लगातार मेहनत करते रहने पर यहां सब कुछ संभव है अगर आपके पास एक अच्‍छा Idea है तो आप भी Blogging में अपना करियर बना सकते हैं

ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाते हैं - How to Make Money From Blogging

चलिये इसको शुरू से समझते हैं यह एक पूरा Eco System है इसमें कई सारे लोग एक दूसरे पर निर्भर रहते हैं किसी भी Business को चलाने के लिए या अपने Business की जानकारी Customer तक पहुंचाने के लिए Advertiser अलग-अलग तरीकों का इस्‍तेमाल करते आये हैं शुरूआत में News Paper, Magazine, रेडियो और टेलीविजन पर Advertisement दिखाये जाते थे इन Platform को इसलिए चुना जाता था क्‍योंकि इनकी पहुंच लाखों लोगों तक होती थी, लेकिन यहां एक परेशानी थी कि कोई भी विज्ञापन जो दिखाया जाता था उसकी पहुंच हर व्‍यक्ति तक होती थी जिसको दिखाया जाना चाहिए वह भी विज्ञापन देखता था और जिसको नहीं देखना था वह भी देखता था आज की भाषा में जिसे हम interest Based Advertising कहते हैं यानी विज्ञापन केवल उन्‍हीं लोगों को दिखाये जाते हैं जिसमें व्‍यक्ति की रूचि हो

विज्ञापन है कमाई करने का जरिया

इसलिए Internet के आने के बाद से चीजें बदली अब Advertiser ने Advertisement दिखाने के लिए Internet का सहारा लेने लगे यहां पर विज्ञापन दिखाने के लिए Google ने एक ऐसा Ads Platform तैयार किया जिस पर बहुत कम बजट में कोई भी विज्ञापन-दाता अपना विज्ञापन दे सकता था और केवल उन लोगों को दिखा सकता था जिनके लिए वह विज्ञापन बनाया गया था इस Ads Platform का नाम था Google Adwords जो अब वर्तमान में Google Ads के नाम जाना जाता है 

Google Ad-words पर आने वाले विज्ञापनों को Google शुरूआत में अपने Home Page पर दिखाया करता था इसकी वजह यह थी कि लाखों लोग Google पर Search करते थे इस वजह से विज्ञापनदाताओं का Interest गूगल पर विज्ञापन दिखाने में ज्‍यादा बढ गया था

ऐसे होती है Google के साथ पार्टनरशिप

अब यहां देखने वाली बात यह भी थी कि Google सिर्फ दूसरी Website के Link अपनी सर्च में दिखाता है उसका खुद का कोई कंटेंट नहीं होता है, लेकिन चूंकि Blogger गूगल का ही एक Platform था इसलिए Google ने निश्‍चय किया कि वह विज्ञापनदाताओं से आने वाले Ads को अब Blogger पर भी दिखायेगा जिससे Bloggers की भी Income होगी और उनका रूझान Blogging की तरफ बढेगा और ऐसा हुआ भी विज्ञापन से होने वाली Income में से कुछ हिस्‍सा गूगल Blogger को देता है और कुछ हिस्‍सा अपने पास रखता है 

शुरूआती दौर में Google सिर्फ English भाषा के Blog पर ही विज्ञापन देता था लेकिन आज हिन्‍दी भाषा के Blog पर भी विज्ञापन देता है भारत में भी हजारों लोग हिन्‍दी भाषा में Blogging करते हैं और अच्‍छी कमाई भी करते हैं

Adsense क्या है और कैसे काम करता हैं

Blog पर विज्ञापन लगाने के लिए प्रत्‍येक Blogger को Google की Adsense नामक Service पर अपने Blog को Adsense Account Approval के लिये Register करना होता है उसके बाद Google Adsense की टीम Blog को Review करती है जिसके लिए वह Google द्वारा बनाई गई Guideline (दिशा निर्देश) को Follow करती है अगर आपका Blog Google की सभी शर्तों पर रखा उतरता है तब आपका Google Adsense Account Approved कर दिया जाता है जिससे आपकी Earning शुरू हो जाती है और कम से कम 100$ पूरे करने पर आपके Bank Account में Payment भेज दिया जाता है



इससे सभी का फायदा होता है विज्ञापन दाता कम बजट में ज्‍यादा लोगों तक अपनी पहुंच बना पाता है Google आपके साथ Partnership करके आपका और अपना दोनों का फायदा करता है और लोगों को उनकी पसंद के विज्ञापन दिखाई देते हैंं

ब्‍लॉग कैसे शुरू करें - How To Start Blog in Hindi 

अगर पैसे नहीं हैं तो कैसे शुरू करें 

अगर आप सोच रहे हैं कि ब्‍लागिंग करने के लिए आपको बहुत ज्‍यादा इन्‍वेस्‍ट करने की जरूरत है तो ऐसा नहीं है आप Google के Free Blogging Platform पर जाकर भी एक Free Blog बना सकते हैं और आज से ही Blogging शुरू कर सकते हैं जब आप एक Free Blogging बनायेंगे तो वहां पर आप वे सारे काम कर पायेंगे जो एक प्रोफेसनल Blogger करता है कुछ चीजों के लिए आपको समझौता भी करना पडेगा लेकिन Free शुरूआत के लिए यह बुरा नहीं है 

डोमेन नेम और टैम्‍पलेट कब लेना है जानें 

जब आप गूगल के प्‍लेटफार्म पर फ्री ब्‍लॉग बनाते हैं तो तब आपके डोमने नेम के पीछे Blogger का Subdomain Blogspot.in जुडा रहता है लेकिन अगर आप चाहते हैं कि आपका खुद का domain हो तो आप उसे custom domain के साथ जोड सकते हैं जिसके लिए आपको सालाना 300 से 1000 रूपये तक का खर्चा करना होगा आप हर साल केवल Domain Renew कराकर ही अपने Blog को हमेशा चला सकते हैं इसके साथ में अगर आपके साथ थोडा और Budget है तब आप एक अच्‍छी Premium Blog Template भी खरीद सकते हैं जिसके लिए आपको सिर्फ एक बार ही पैसा खर्च करना है इससे Blog पर एक Professional look आ जाता है Premium Blog Template की कीमत 500 रूपये से लेकर 3000 रूपये तक होती है यानी अगर आप Domain name और Template पर खर्चा करते हैं तो आप लगभग 4000 रूपये में एक Professional blog बना सकते हैं 

Web Hosting कब लेनी है 

अगर आपको लगता है कि अब आप बहुत अच्‍छे तरीके से ब्‍लागिंग करना सीख गये हैं ओर आपके Blog पर भी अच्‍छा खासा Traffic (ब्‍लॉग को पढने वाले लोग) आने लगे हैं तब आपको निर्णय लेना है कि आपको Web Hosting खरीदनी है या नहीं जो लोग Web Hosting से अनभिज्ञ हैं उन्‍हें बता दूं कि आप Internet पर जो भी सामग्री अपलोड करते हैं चाहे वह Text हो Image हो, या Videa हो वह एक सर्वर (Computer) पर Upload रहती है जो 24 घण्‍टे Internet से जुडा रहता है Blogger पर Google की Free Web Hosting का इस्‍तेमाल करते हैं जिसकी कुछ Limitations हैं अगर आप चाहते हैं कि एक Custom professional website बनाना तो वह Blogger के Free Platform पर नहीं बनायी जा सकती इसके लिए आपको Web Hosting खरीदनी होगी 

वेबसाइट सपोर्ट के आधार पर वेब होस्टिंग तीन प्रकार की होती है -
  1. शेयर्ड वेबहोस्टिंग ( Shared Web Hosting )
  2. वर्चुअल प्राइवेट सर्वर ( Virtual Private Server )
  3. डेडिकेटेड वेब होस्टिंग ( Dedicated Web Hosting )
होस्टिंग का खर्चा 5000 रूपये साल से लेकर 200000 रूपये वर्ष तक हो सकता है 

Best Blogging Platform चुनें  

होस्टिंग लेने के बाद आपको Best Blogging Platform का चुनाव करना होगा इसके लिए WodPress.Org एक Best CMS (Content Management System ) है दुनिया भर में 30 प्रतिशत से ज्‍यादा Blog और बेबसाइट WodPress.Org पर बनायी जाती हैं WodPress पर Blog बनाते समय आपको Web designing के बहुत ज्‍यादा ज्ञान की आवश्‍यकता नहीं है यहां पर आपको ढेर सारे Premium Themes और Free Plugins मिल जाते हैं जो आपके ब्‍लॉग में Extra Features Add करते हैं जिससे आपका Web designing का काम बहुत आसान हो जाता है जिससे आपका सारा ध्‍यान Blogging की ओर रहता है  - 

क्‍यों चुनते हैं प्रोफेशनल ब्‍लॉगर वर्डप्रेस को 👇

तो आखिर वर्डप्रेस (WordPress) में ऐसा क्‍या है जो दुनिया की सबसे ज्‍यादा वेबसाइट वर्डप्रेस पर ही बनाई जाती हैं उदाहरण के लिए आपका पिज़्ज़ा खाने का बहुत मन हो रहा है तो इसके 3 तरीके हैं -
  1. पहला आप खुद पिज़्ज़ा बनाने की रेसिपी को समझिए और फिर उसका सारा सामान इकट्ठा कीजिए और फिर पिज़्ज़ा बनाइए
  2. दूसरा तरीका है आप किसी पिज़्ज़ा बनाने वाले के पास जाइए और उसको ऑर्डर दीजिए आपको किस तरीके का पिज़्ज़ा चाहिए और उसके बाद में उसका आनंद उठाइए ये थोडा मंहगा हो सकता है
  3. तीसरा तरीका है आप बाजार जाईये बना हुआ पिज़्ज़ा खरीदिये घर लाईये गर्म कीजिये और खा लीजिये
इसी तरह से अगर आप खुद के लिए वेबसाइट बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको वेब डिजाइनिंग सीखनी होगी वह भी प्रोफेशनल तरीके से तब आप एक वेबसाइट बना पाएंगे, दूसरा तरीका है आप किसी वेब डिजाइनर के पास जाएंगे उसको अपनी सारी बातें बताएंगे कि आपको वेबसाइट में क्‍या क्‍या चीजें चाहिए, जिसके लिये वह आपसे अच्‍छी खासी फीस लेगा और आपको वेबसाइट बनाकर देगा और समय समय पर अपडेट के लिये भी आपको उससे ही सम्‍पर्क करना होगा

तीसरा तरीका है आप वर्डप्रेस (WordPress) पर जाइए वहां पर सिंपल आप अपना डोमेन और होस्टिंग अटैच कीजिए वेबसाइट बना लीजिए वह आपको ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं है ढेर सारे प्लगइन आपको वहां पर पहले से ही मिल जाते हैं आपको किसी भी चीज से रिलेटेड वेबसाइट बनानी है बस इंस्टॉल कीजिए और काम हो गया आपको कोई प्रोग्रामिंग सीखने की जरूरत नहीं है आपको कोई वेब डिजाइनिंग सीखने की जरूरत नहीं है सारी चीजें आपको वर्डप्रेस पर उपलब्ध हो जाती हैं

कंटेंट राइटिंग क्या है - What is Content Writing

जगह खरीद ली, दुकान भी बना ली और उसको सजा भी लिया लेकिन अब आप अपनी दुकान में क्‍या सामान रखते हैं उसकी Quality क्‍या है, उस दुकान का चलना न चलना इसी बात पर निर्भर करता है इसी तरह से कोई भी Blog का चलना या न चलना उसके Content की Quality पर निर्भर करता है

Google हमेशा कहता है कि “Content Is King” यानी अगर आपके ब्‍लॉग सामग्री (Blog Content) जिसे आप Blog Post भी कहते हैं, में अगर दम है तो आपके बेवसाइट की डिजाइन व अन्‍य चीजों से कोई फर्क नहीं पडता वह Blog पढने वाले Reader को हमेशा प्रभावित करता है और Google भी ऐसे Blog को हमेशा सर्च में रखता है जिसका Content लोगों को पसंद आता है यानी यह बहुत महत्‍वपूर्ण विषय है आइये जानते हैं कौन-कौन सी चीजें आपके पाठक को प्रभावित करती हैं, बाकी सभी कमिंया समय के साथ साथ दूर होती जाती हैं 

कंटेंट राइटिंग के टिप्‍स - Content Writing Tips

  1. किसी भी Topic पर Unique और प्रभावशाली Content हमेशा लोगों को पसंद आता है जिसमें बारीकी से हर Topic पर Detailed Information दी जाती है 
  2. Blog के विषय अनुसार Content बनाना और अपने Readers की interest को भी समझना बहुत जरूरी है अगर आपको नहीं पता है कि आपके Blog पर आने वाले पाठक किसी चीज में interest रखते हैं तो आप एक सही Content नहीं लिख पायेंगे जिसके लिए आप Google Analytics सर्विस का इस्‍तेमाल कर सकते हैं जिससे आपको पता चलेगा कि आपके Blog पर आने वाला पाठक कहां से आ रहा है तथा उसकी उम्र क्‍या है या वह कौन सी भाषा बाेलता है इसके अतिरिक्‍त और भी ढेर सारी जानकारियां आपको यहां से मिल जायेंगी, 
  3. समय के अनुसार Topic Select करें Keyword Research करने का तरीका जानें, यानी जो Topic इस समय Trend में चल रहा है उस पर आपको ज्‍यादा से ज्‍यादा पाठक मिल सकते हैं और अपनी रूचि दिखा सकते हैं जो तो trending topic पर article लिखें 
  4. पाठकों का Attention लेने के लिए interesting ideas तैयार करें थोडी सी रिसर्च भी करें कि आपके पाठकों ने आपके पुराने आर्टिकल्‍स में से किस पर सबसे ज्‍यादा रूचि दिखाई है उन्‍हीं विषयों का चुनाव करें 
  5. आपके नये आर्टिकल में दूसरे आर्टिकल्‍स के Link जरूर होने चाहिए जो आपके ब्‍लाग के अन्‍य और आर्टिकलों से भी जुडे हों होने चाहिये, आपके ब्‍लाग में Related article के Link भी होने चाहिए जिससे आपके पाठक ज्‍यादा से ज्‍यादा देर तक आपके ब्‍लाग पर बने रहें आर्टिकल लिखते समय आप अपने पाठकों को ऐसे Article का Suggestion भी दे सकते हैं जो आपके Blog पर सबसे ज्‍यादा देखे जाते हों 
  6. आर्टिकल्‍स साफ सुथरा और स्‍पष्‍ट भाषा में होना चाहिए यानी आप क्‍या कह रहे हैं यह लोगों को समझ में आना चाहिए अगर आप अपनी बात नहीं समझा पायेंगे तो आप कितना भी लम्‍बा, चौडा आर्टिकल लिख लें उससे कोई फायदा नहीं होगा 

सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन (SEO) का भी ज्ञान लें 

जब आप Blog Website बनाते हैं तो उसकी सफलता इस बात पर निर्भर करती है कि उसे कितने पाठक मिलते हैं और ज्‍यादातर पाठक किसी भी Topic को खोजने के लिए Google जैसे Search Engine का इस्‍तेमाल करते हैं यानी वह google पर कोई भी Keyword डालते हैं Google उस Keyword को सभी Blog और Website में खोजता है अगर वह Keyword आपके Blog में मिल जाता है तो Google उस पाठक को आपके Blog तक भेज देता है इसके लिए Google आपके Blog Artical में कुछ विशेष चीजों को जांच करता है जिसके लिए Google ने एक Guideline बनायी है जिसे सर्च इंजन ऑप्टिमाइज़ेशन (SEO) कहते हैं
ध्यान रखें 1 दिन में आप ब्लॉगिंग में सफलता प्राप्त नहीं कर सकते हैं आपको निरंतर ब्लॉगिंग सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन और कंटेंट राइटिंग पर ध्यान देना होगा साथ ही अपने ब्लॉग पोस्ट को लोगों तक सोशल मीडिया के सहारे भी पहुंचाना होगा आज के समय में ब्लॉगिंग करना इतना आसान भी नहीं है लेकिन अगर आपने एक बार ठान लिया है तो ब्लॉगिंग आप से बच नहीं सकती है आप 1 दिन इसमें जरूर सफलता प्राप्त करेंगे लेकिन उसके लिए निरंतर मेहनत और धैर्य के साथ काम करना भी जरूरी है

Learn Blogging in Hindi A to Z Guide : Make Money Online with Blog in Hindi ब्लोगिंग सीखें हिंदी में 

जाने एक फ्री ब्लॉग कैसे बनाते हैं- Learn How To Create a Free Blog 



आशा है आप समझ गये होंगे Blog क्‍या है, Blog किसे कहते हैं, Blogging से पैसा कैसे कमाया जाता है, Blogging करने के लिए क्‍या-क्‍या चीजें जरूरी हैंं, बजट ,डोमेन नेम और टैम्‍पलेट, बेब हास्टिंग, कन्‍टेंट राइटिंग क्‍या है (What is Content Writing) और सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (Search engine optimization) क्‍या होता है आशा करता हूॅ यह जानकारी आपको बहुत पसंद आई होगी अगर आपको यह जानकारी पसंद आये तो आप अपने दोस्‍तों के साथ शेयर कर दूसरों की जानकारी भी बढायें, आप दिन शुभ हो धन्‍यवाद

Other Computer tips and tricks

  1. कम्प्यूटर सीखें हिन्दी में - Learn Computer In Hindi
  2. सीसीसी कंप्यूटर कोर्स क्या है - What is CCC Computer Course Hindi- New *
  3. सीसीसी कंप्यूटर कोर्स इन हिंदी- CCC Computer Course in Hindi
  4. 31 फ्री फुल एक्सेल वीडियो ट्यूटोरियल
  5. कंप्यूटर टिप्स और ट्रिक्स
  6. प्रमुख तकनीकी आविष्कार और आविष्कारक
  7. हमें यूट्यूब पर जॉइन करें और पायें फ्री डेली टेक अपडेट
  8. बेस्ट वेबसाइट सभी के लिये - Best Website For Allदेखना ना भूलें 👈
  9. A to Z कंप्यूटर टर्म्स, डिक्शनरी और शब्दावली - A to Z Computer Terms, Dictionary
  10. PDF Tricks and Tips - पीडीएफ ट्रिक्स और टिप्स
  11. Internet Tips and Tricks - इंटरनेट टिप्स अौर ट्रिक्स
  12. YouTube Tips and Tricks - यूट्यूब टिप्स और ट्रिक्स
  13. Printing Tips - प्रिंटिंग टिप्स
  14. Parental Control Tips - पेरेंटल कंट्रोल टिप्स
  15. How To Guide In Hindi - हाउ टू गाइड हिन्दी में
  16. Google Search Tips and Tricks -गूगल सर्च के टिप्स और ट्रिक्स
  17. Google Now Tips and Tricks गूगल नॉउ टिप्स और ट्रिक्स हिन्दी में
  18. Google Map Tricks and Tips - गूगल मैप के टिप्स अौर ट्रिक्स
  19. Google Drive Tips and Tricks- गूगल ड्राइव के टिप्स अौर ट्रिक्स
  20. Google Chrome Tips and Tricks - गूगल क्रोम के टिप्स और ट्रिक्स
  21. Gmail Tips and Tricks - जीमेल के टिप्स और ट्रिक्स
  22. Cloud computing tips and tricks - क्लाउड कंप्यूटिंग के टिप्स और ट्रिक्स
  23. Facebook Tips and Tricks - फेसबुक के टिप्स और ट्रिक्स
  24. Android tips and tricks - एड्राइड के टिप्स अौर ट्रिक्स
  25. Blogger Tips and Tricks - ब्लागर टिप्स और ट्रिक्स




हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a comment

Blogger