Ads (728x90)



मोर्स कोड ( Morse Code ) का नाम आपने कहीं ना कहीं जरूर सुना होगा असल में असल में मोर्स कोड गोपनीय संदेश भेजने की एक पद्धति है जैसा किसके नाम में ही है यह सभी संदेश एक कोड भाषा में भेजे जाते हैं जिस का आविष्कार किया था सैमुअल मोर्स तो इस वजह से इस कोड भाषा का नाम मोर्स कोड रख दिया गया आइए जानते हैं मोर्स कोड क्या होता है और इसे कैसे भेजा जाता है और किन-किन तरीकों से आप मोर्स कोड में बातचीत कर सकते हैं यह संदेश भेज सकते हैं - मोर्स कोड क्या है What is Morse code in Hindi


मोर्स कोड क्या है What is Morse Code in Hindi

समय-समय पर संदेश भेजने का तरीका बदलता रहा है और जब बात हो गोपनीय संदेश भेजने की तो ऐसे संदेश एक कोड भाषा में भेजे जाते हैं जिनको केवल वही व्यक्ति समझ सकता है जो कोड भाषा को जानता है अगर तकनीकी भाषा में बात करें तो ऐसे संदेशों को इंक्रिप्टेड संदेश कहते हैं जिनको हर कोई नहीं समझ सकता और ऐसी ही एक कोड भाषा है मोर्स कोड

कहते हैं आवश्यकता ही आविष्कार की जननी होती है और यह बात बिल्कुल सही है जब तक आपको किसी चीज की आवश्यकता ना हो तब तक कोई अविष्कार नहीं हो सकता बात टेलीफोन के अविष्कार से लगभग 36 साल पहले की है जब एक जगह से दूसरी जगह तक संदेश भेजना बहुत मुश्किल काम होता था संदेश केबल चिट्ठियों के माध्यम से पहुंचाए जाते थे

1825 में सैमुअल मोर्स अमेरिका के एक शहर वॉशिंगटन डी सी में थे और उनके माता-पिता अपने घर न्यू हेवेन में थे जून से लगभग 500 किलोमीटर की दूरी पर था उनकी माता का देहांत लंबी बीमारी के चलते हो गया जिसकी सूचना उनके पिता ने उनको भेजें लेकिन यह सूचना इतनी देर में उन तक पहुंची कि जब तक वह अपने घर पर पहुंचे तब तक उनकी माता का अंतिम संस्कार किया जा चुका था इस घटना ने उन को आहत किया और उन्हें ठान लिया कि वह एक ऐसी चीज बनाएंगे जिससे कोई भी सूचना तुरंत पहुंचाई जा सके

सैमुअल मोर्स ने भौतिक विज्ञानी जोसफ हेनरी ऑल अलफ्रेड वेल के साथ मिलकर 1836 की शुरुआत में एक ऐसा सिस्टम विकसित किया जो इलेक्ट्रिक करंट की सहायता से एक छोर से दूसरे छोर तक तारों के जरिए इलेक्ट्रिकल्स भेज सकता था जिसे इलेक्ट्रोमैग्नेटिक द्वारा कंट्रोल किया जाता था लेकिन इससे केबल एक बीप की साउंड भेजी जा सकती थी अब केवल बीप की आवाज से ही कैसे बात हो सकती थी तो इसके लिए सैमुअल मोर्स ने एक कोड विकसित किया जिसमें बीपी साउंड से ही बात की जा सकती थी और इस कोड को नाम दिया गया मोर्स कोड मोर्स कोड की सहायता से आसानी से किसी भी दूर बैठे व्यक्ति को संदेश भेजा जा सकता था और वह भी रियल टाइम में

इसको भेजने के लिए जिस इलेक्ट्रिक उपकरण का इस्तेमाल किया जाता है उसे हम टेलीग्राफ सिस्टम कहते हैं इसमें दो टेलीग्राफ सिस्टम दोनों छोरों पर होते हैं जहां से मैसेज भेजा जाता है और जहां पर प्राप्त किया जाता है यह दोनों सिस्टम एक दूसरे से इलेक्ट्रॉनिक करंट के जरिए जुड़े रहते हैं एक सिस्टम से दूसरे सिस्टम पर इलेक्ट्रॉनिक करंट भेजा जाता है जहां पर बीप की साउंड होती है

मोर्स कोड के अंतर्गत बीप का एक लघु संकेत यानी एक छोटा संकेत और एक बड़ा संकेत भेजा जाता है छोटे संकेतों के लिए डॉट का प्रयोग तथा दीर्घ संकेत के लिये डैश का प्रयोग किया जाता है। यदि आप कागज पर इन संकेतों को लिखेंगे तो यह कुछ ऐसा दिखाई देगा डॉट (.) और डैश (-)
मोर्स कोड के यह संदेश अन्य माध्यमों से भी भेजे जा सकते हैं जैसे ध्वनि और प्रकाश या आप अपनी पलके झपका कर भी मोर्स कोड में बात कर सकते हैं

डॉट और डैश के इन कंबीनेशन से मोर्स कोड इंग्लिश के पूरे अल्फाबेट के लिए बनाए गए हैं इस कम्युनिकेशंस में डॉट और डैश का कम से कम एक अक्षर और अधिकतम चार अक्षर हो सकते हैं सबसे छोटा मोर्स कोड जिस शब्द का है वह शब्द है अंग्रेजी वर्णमाला का E जिसके लिए सिंगल डॉट (.) का इस्तेमाल किया जाता है आइए जानते हैं अंग्रेजी की पूरी वर्णमाला और और उनके मोर्स कोड

मोर्स कोड की पूरी वर्णमाला - complete alphabet of Morse Code


A .-
B -...
C -.-.
D -..
E .
F ..-.
G --.
H ....
I ..
J .---
K -.-
L .-..
M --
N -.
O ---
P .--.
Q --.-
R .-.
S ...
T -
U ..-
V ...-
W .--
X -..-
Y -.--
Z --..


इसी तरह से 0 से लेकर 9 तक के सभी अंकों के लिए भी मोर्स कोड बनाए गए हैं इसमें अधिकतम शब्दों की संख्या 5 रखी गई है जबकि अल्फाबेट के लिए अधिकतम शब्दों की संख्या 4 थी




1 .----
2 ..---
3 ...--
4 ....-
5 .....
6 -....
7 --...
8 ---..
9 ----.
0 -----

अब आप कहेंगे कि आज के समय में मोर्स कोड की क्या जरूरत है जबकि कम्युनिकेशन के बहुत सारे साधन है मोर्स कोड आज उन लोगों की बहुत मदद कर रहा है जो लोग बात करने में अक्षम है वह लोग केवल अपनी उंगली हिलाकर विद्युत संकेतों के जरिए बात कर सकते हैं इसके अलावा आप लाइट के माध्यम से आवाज के माध्यम से कागज पर प्रिंट करके या अपनी पलके झपकाकर भी मोर्स कोड की भाषा में बात कर सकते हैं

Other Computer tips and tricks

  1. कम्प्यूटर सीखें हिन्दी में - Learn Computer In Hindi
  2. सीसीसी कंप्यूटर कोर्स क्या है - What is CCC Computer Course Hindi- New *
  3. सीसीसी कंप्यूटर कोर्स इन हिंदी- CCC Computer Course in Hindi
  4. 31 फ्री फुल एक्सेल वीडियो ट्यूटोरियल
  5. कंप्यूटर टिप्स और ट्रिक्स
  6. प्रमुख तकनीकी आविष्कार और आविष्कारक
  7. हमें यूट्यूब पर जॉइन करें और पायें फ्री डेली टेक अपडेट
  8. बेस्ट वेबसाइट सभी के लिये - Best Website For Allदेखना ना भूलें 👈
  9. A to Z कंप्यूटर टर्म्स, डिक्शनरी और शब्दावली - A to Z Computer Terms, Dictionary
  10. PDF Tricks and Tips - पीडीएफ ट्रिक्स और टिप्स
  11. Internet Tips and Tricks - इंटरनेट टिप्स अौर ट्रिक्स
  12. YouTube Tips and Tricks - यूट्यूब टिप्स और ट्रिक्स
  13. Printing Tips - प्रिंटिंग टिप्स
  14. Parental Control Tips - पेरेंटल कंट्रोल टिप्स
  15. How To Guide In Hindi - हाउ टू गाइड हिन्दी में
  16. Google Search Tips and Tricks -गूगल सर्च के टिप्स और ट्रिक्स
  17. Google Now Tips and Tricks गूगल नॉउ टिप्स और ट्रिक्स हिन्दी में
  18. Google Map Tricks and Tips - गूगल मैप के टिप्स अौर ट्रिक्स
  19. Google Drive Tips and Tricks- गूगल ड्राइव के टिप्स अौर ट्रिक्स
  20. Google Chrome Tips and Tricks - गूगल क्रोम के टिप्स और ट्रिक्स
  21. Gmail Tips and Tricks - जीमेल के टिप्स और ट्रिक्स
  22. Cloud computing tips and tricks - क्लाउड कंप्यूटिंग के टिप्स और ट्रिक्स
  23. Facebook Tips and Tricks - फेसबुक के टिप्स और ट्रिक्स
  24. Android tips and tricks - एड्राइड के टिप्स अौर ट्रिक्स
  25. Blogger Tips and Tricks - ब्लागर टिप्स और ट्रिक्स




हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment

Blogger