वीसीआर (VCR) यानि वीडियो कैसेट रिकार्डर (Video Cassette Recorder) जो किसी समय हमारे जीवन में मनोरंजन का महत्‍वपूर्ण साधन हुआ करता था अब वही वीसीआर (VCR) इतिहास बनने जा रहा है इस समय जापान की फुनाई कंपनी ही वीसीआर बना रही है और कंपनी का दावा है कि वह वीसीआर का निर्माण अगस्‍त माह के बाद बंद कर देगी और अगस्‍त माह के बाद वीसीआर एक इतिहास बनकर रह जायेगा, आईये जानें वीसीआर (VCR) से जुडी कुछ रोचक और महत्‍पूर्ण बातें -


फुनाई कंपनी का दावा है कि दुनिया में केवल हमारी कंपनी ही अब तक वीसीआर बना रही थी इस कंपनी ने साल 2015 में पूरी दुनिया में लगभग सात लाख पचास हजार वीसीआर बेचे हैंं-

अकेला वीसीआर (VCR) ही नहीं है जो इतिहास बनने जा रहा है इससे पहले और भी कई गैजेट और उपकरण इतिहास का हिस्‍सा बन चुके हैं

भारत में वीसीआर - VCR in India

वीसीआर का नाम सुनते ही हमें अपने पुुरानेे दिन याद आ जाते हैंं जब वीसीआर पर फिल्‍म देखने के लिए किसी खास‍ दिन का इंतजार किया जाता था और उस खास दिन केे आने से पहले दोस्‍तों से पैसे इकठ्ठे किये जाते थे

क्‍योंकि वीसीआर उस समय में किराये पर भी इतना मंंहगा आया करता था एक व्‍यक्ति अकेले नहीं ला सकता था इसलिए पैसे इकठ्ठेे कर वीसीआर को किराये पर लाया जाता था फिर उसको चलाने के लिए जरनेटर की व्‍यवस्‍था की जाती थी और जरनेटर को चलाने के लिए डीजल की व्‍यवस्‍था की जाती थी

अब बारी आती थी वीसीआर मे चलने वाली फिल्‍मों को लाने की वीसीआर मेे चलने वाली फिल्‍में उसी व्‍यक्ति की पसंद की आती थी जाेे वीसीआर लाता था या जिसके घर प्रोग्राम होता था और उसी कहने पर वीसीआर चलाया और बंंद किया जाता था और किसी को उसे छूने की भी इजाजत नहीं होती थी क्‍योंंकि ऐसा माना जाता था कि हाथ लगाने से वीसीआर खराब हो जायेगा

आज से 10-15 वर्ष पहले घरो में टीवी की संख्‍या भी काफी कम थी अगर किसी के यहॉ टेलिविजन था भी ताेे वो भी व्‍लैक एंंड व्‍हाइट और वहीं वीसीआर होता था रंगीन उन दिनों जहॉ लोग व्‍लैक एंंड व्‍हाइट टेलिविजन देखने के लिए भी दूसरों के घर जाया करते थे वहींं जब रंगीन वीसीआर देखने को मिल जाय तो लोग पागल हो जाते थे यहॉ तक गाॅॅवों में दिन में काम होते थे इ‍सीलिए वीसीअार काेे रात मेंं चलाया जाता था जिस रात को पता चलता था कि आज वीसीआर चलेगा उस रात को बच्‍चें अपने घरों से छुुप-छुप केे वीसीआर देखने आते थे कई बार बच्‍चों की इस हरकत के लिए उनकी पिटाई भी हो जाती थी वीसीआर की कैसेट काफी बडी होती थी तो एक रात में 3-4 फिल्‍म ही देखी जा सकती थी और उन फिल्‍मों को देखने के बाद लोग कई महीनाें तक उनके बारे मेंं बातें करते रहते थे और अगली बार वीसीआर कब लाना है इस बारे में सोचते रहते थे

लेकिन इससे भी ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण वीसीआर तब होता था जब किसी के यहॉ कोई महत्‍वपूर्ण प्रोग्राम हुआ करता था जैसे- शादी, जन्‍मदिन, आदि तब वह वीसीआर की कैसेट में उस प्रोग्राम को कैद करता था और बाद में पूूरा परिवार एक जगह बैठकर उस प्रोग्राम को देखते थे 

When was the first VCR invented?

अमेरिकी की कंपनी एमपैक्स (Ampex) ने पहला सन् 1956 में पहला वीसीआर बनाया उस समय इस वीसीआर की कीमत 50 हजार डॉलर यानी लगभग 33 लाख रुपये थी यह वीसीआर इतना मंंहगा था कि आम लोग इसे खरीदने की सोच ही नही सकते थे लेकिन बाद में सोनी, फिलीप्स, टेलकॉन जैसी कंपनियों ने वीसीआर बनाया और इसकी कीमत ऐसी रखी कि आम लोग भी वीसीआर का अानंद ले सकें

When did the VCR become popular, first VCR invented, VCR History, vcr information, video cassette machine, vcr information

loading...

हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment

Blogger
  1. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (29-07-2016) को "हास्य रिश्तों को मजबूत करता है" (चर्चा अंक-2418) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्‍यवाद मयंक जी

      Delete
  2. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, " सम्मान खोते उच्च न्यायालय “ , मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete