कंप्यूटर गेम (computer games) के हजारों लोग शौकीन हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं हर उम्र के बच्चाें के लिये नहीं बनाये जाते हैं, इसकी पहचान के लिये लिये इन्हें इंटरटेनमेंट सॉफ्टवेयर रेटिंग बोर्ड (ESRB) द्वारा एक खास रे‍टिंग दी जाती है - 

Entertainment Software Rating Board System in Hindi


EC (Early Childhood) Rating (अर्ली चाइल्डहुड रेटिंग )

इस श्रेणी के अन्तर्गत एेसे गेम आते हैं जो 3 बर्ष और उससे अधिक उम्र के लिये बनाये जाते हैं 

E (Everyone) Rating (एवरीवन  रेटिंग)

इस प्रकार की रेटिंग वाले गेम्स में ना के बराबर हिंसा मौजूद रहती है, यह गेम्स  में 6 वर्ष और उससे अधिक उम्र के बच्चे के बच्चों के लिये बनाये जात हैं । 

T (Teen) Rating (टीन  रेटिंग)

टीन रेटिंग वाले गेस्म 13 बर्ष और उससे अधिक उम्र के बच्चे के लिये बनाये जाते हैं इसमें गेम्स में हिंसा, खून, जुआ जैसी चीजें होती हैं। 

M (Mature) Rating (मैच्योर रेटिंग )

इस प्रकार के गेमों को 17 बर्ष और उससे अधिक उम्र के बच्चों के लिये बनाया जाता है इसके खून, हिंसा बहुत अधिक होती है। 

AO (Adults Only) Rating (एडल्ट्स ओनली रेटिंग)

इस प्रकार की रेटिंग वाले गेम्स में हिंसा, खून, अश्लीलता आदि का समावेश बहुत अधिक होता है, यह गेम्स केवल 18 वर्ष की आयु के लोगों के लिये ही बनाये जाते हैं।  

RP (Rating Pending) Rating (रेटिंग पेंडिंग)

गेम लांच करने से पहले प्रचार के दौरान इस प्रकार रेटिंग का प्रयोग किया जाता है और रेटिंग आने पर रेटिंग दे दी जाती है।

esrb rating system, ESRB Ratings, What does RP mean in games, What is at rating on video games, What does the rating T mean, What is the ESRB, video game age ratings, Parent's Guide to Game Ratings, Rated T Games for PC

loading...

हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment

Blogger