जिस प्रकार मछली पकडने के लिये कॉटे में चारा लगाकर डाला जाता है और चारा खाने के लालच या धोखे में आकर मछली कॉटें में फंस जाती है। उसी प्रकार फ़िशिंग (Phishing) भी हैकर्स (Hackers) द्वारा इन्‍टरनेट पर नकली वेबसाइट (Fake Website) या ईमेल (Email) के माध्‍यम से इन्‍टरनेट यूजर्स के साथ की गयी धोखेबाजी (scams) को कहते हैं। जिसमें वह आपकी निजी जानकारी (personal information) को धोखेबाजी (scams)  के माध्‍यम से चुरा लेते हैं और उसका गलत उपयोग करते हैं -

What is a phishing attack? क्‍या हैै फिशिंग अटैक

यह अपराधी फ़िशिंग के माध्‍यम से आपको नकली ईमेल या संदेश भेजते हैं, जो किसी प्रतिष्ठित कम्‍पनी, आपकी बैंक, आपकी क्रेडिट कार्ड कम्‍पनी, ऑनलाइन शॉपिंग की तरह मिलते-जुलते होते हैं, अगर आप सतर्क नहीं हैं तो आप इनके झॉसे में जल्‍द ही आ जाते हैं। इन नकली ईमेल (Fake email) या संदेश का उद्देश्‍य से आपकी PII यानी पर्सनल आइडेंटिफाइएबल इन्फ़ॉर्मेशन (Personally identifiable information) को चुराना है। पर्सनल आइडेंटिफाइएबल इन्फ़ॉर्मेशन (Personally identifiable information) के अन्‍तर्गत आपकी निजी जानकारियॉ आती है जैसे - 
  1. आपका नाम 
  2. आपकी ईमेल यूजर आई0डी
  3. आपका पासवर्ड 
  4. आपका मोबाइल नम्‍बर या फोन नम्‍बर
  5. आपका पता
  6. बैंक खाता नम्‍बर
  7. एटीएम कार्ड, डेबिट कार्ड तथा क्रेडिट कार्ड नम्‍बर 
  8. एटीएम कार्ड, डेबिट कार्ड तथा क्रेडिट कार्ड आदि का वेलिडेशन कोड
  9. आपकी जन्‍मतिथि 
what is phishing, What are phishing scams and how can I avoid them, What is Phishing, Phishing Scams, what is phishing and how does it work, phishing attack

loading...

हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment

Blogger