स्‍मार्टफोन की एक आम समस्‍या है कम रैम, इस समस्‍या का सामना काफी सारे स्‍मार्टफोन यूजर्स से होता है, कम रैम होने की वजह से फोन हैंग होने की भी समस्‍या अक्‍सर होती है, अगर आप कुछ साधारण से टिप्‍स अपनायें तो स्‍मार्टफोन की रैम काे बढाया जा सकता है -

How To Increase RAM of Android Phone -  एेसे बढायें अपने स्‍मार्टफोन की रैम 

सबसे पहले जान लेते हैं रैम क्‍या होती है और यह क्‍या काम करती है - 

रैम यानि रैंडम एक्सेस मेमोरी, यह एक अस्‍थाई मैमाेरी होती है अौर इसका उपयोग तब होता है जब आप अपने फोन पर कुछ काम रहे होते हैं या गेम खेल रहे होते हैं। जब आप अपने फोन में कोई एप्‍लीकेशन रन करते हैं तो वह आपके फोन की रैम को अपने हिसाब से यूज करती है साथ ही आपके फोन का आॅपरेटिंग सिस्‍टम की चलने के लिये रैम का यूज करता है और जब जरूरत से ज्‍यादा एप्‍लीकेश्‍ान और गेम्‍स आपके फोन में इंस्‍टॉल हो जाते हैं तो आपके फोन की रैम फुल हो जाती है और फोन परेशान करने लगता है - 

  • अगर अाप अपने फोन की रैम को बचाना चाहते हैं तो अपनी होम स्क्रीन पर कम से कम विजेट लगाईये। साथ ही लाइव वालपेपर का यूज मत कीजिये यह आपकी रैम के साथ-साथ आपकी बैटरी को भी खत्‍म करते हैं।  
  • बैकग्राउंड में चलने वाली एप्‍लीकेशन पर नजर रखिये, एंड्राइड फोन में एेसी कई सारी एप्‍लीकेशन होती हैं, जिनको आप यूज भी नहीं कर रहे होते हैं वह फिर भ्‍ाी आपके फोन के बैकग्राउंड में चलती रहती है अौर आपके फोन की रैम को यूज भी करती रहती हैं, ऐसी एप्‍लीकेशन को आप बंद कीजिये। इसके लिये Settings -> Applications -> Services पर जाईये।
  • बेवजह की एप्‍लीकेशन और गेम्‍स को इंस्टॉल मत कीजिये, बस जरूरी एप्‍लीकेशन को ही फोन में इंस्टॉल कीजिये। 
how to increase phone ram without root, how to increase phone ram android, how to increase phone ram memory, how to increase my phone ram


loading...

हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment

Blogger
  1. आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन ब्लॉग बुलेटिन - भारत की 'मानव कंप्यूटर' ~ शकुन्तला देवी में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

    ReplyDelete
  2. आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (06-11-2015) को "अब भगवान भी दौरे पर" (चर्चा अंक 2152) पर भी होगी।
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
    जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  3. Thanks a lot sir. I have gained a lot of knowledge from your website. This side is highly appreciated.

    ReplyDelete