आज कंप्‍यूटर और स्‍मार्ट फोन ने आपके और आपके बच्‍चों के लिये इंटरनेट को आसान बना दिया है ऐसे में हर उम्र के बच्‍चे की पहुॅच इंटरनेट पर पडी उन सामग्रीयों तक हो सकती है। जिसे उसे नहीं देखना चाहिये या प्रयोग करना चाहिये। ऐसी सामग्री से बच्चों को बचाना अभिभावकों के लिए काफी कठिन काम है। लेकिन कुछ सॉफ्टवेयर की मदद से बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखी जा सकती है- 


क्‍या है पैरेंटल कंट्रोल

बच्‍चे तो बच्‍चे होते हैं उन्‍हें अगर उन कोई रोक टोक न हो तो वो पूरे दिन कंप्‍यूटर से या इंटरनेट से चिपके रह सकते हैं और खासतौर पर तक जब माता पिता घर पर ना हों या कंप्‍यूटर के बारे में ज्‍यादा जानते न हों तो। बच्‍चों की इसी प्रकार की ऑनलाइन और ऑफलाइन गतिविधियों की मॉनिटरिंग करने और अगर आप घर पर हों या ना हो लेकिन आपके घरेलू कम्‍प्‍यूटर और इन्‍टरनेट या अन्‍य डिवाइसों को आपके बच्‍चे के लिये सुरक्षित बनाने को ही पैरेंटल कंट्रोल कहते हैं। इसके लिये कुछ सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाता है। 

आप क्‍या-क्‍या कर सकते हैं 

  • आप जान सकते हैं कि आपका बच्‍चा आपके पीछे क्‍या-क्‍या कर रहा है। 
  • अगर आपको लगता है कि कुछ बेवसाइट आपके बच्‍चें के लिये ठीक नहीं हैं तो आप उन बेवसाइट को ब्‍लॉक कर सकते हैं। 
  • कंप्यूटर पर देखी गई सभी वेबसाइट्स का पूरा ब्यौरा प्राप्‍त कर सकते हैं। 
  • आप बच्‍चों के कम्‍प्‍यूटर और इन्‍टरनेट के प्रयोग का टाइम निर्धारित कर सकते हैं। 
  • इंटरनेट सर्च को बच्‍चों के लिये अच्‍छा बना सकते हैं।

loading...

हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment

Blogger
  1. पैरेंटल कंट्रोल कैसे use किया जाता है

    ReplyDelete
    Replies
    1. खान साहब पैरेंटल कंट्रोल प्रयोग करने के कई सारे तरीके हैं, इससे पहले जानना जरूरी है कि आप किस जगह पैरेंटल कंट्रोल यूज करना चाहते हैं इसके लिये आप हमारे पैरेंटल कंट्रोल टैग पर क्लिक करें - और अधिक जानकारी प्राप्‍त करें धन्‍यवाद

      Delete