Photoshop का काम करने वाले लोगों pixel, megapixel शब्‍द से वास्‍ता पडता ही रहता होगा, साथ ही Digital Camera या Mobile खरीदते समय भी megapixel का ध्‍यान रखा जाता है। 

इतना तो हम सभी लोग जानते ही हैं कि  pixelऔर megapixel से Camera, Photo और Video की क्‍वालिटी ऑकी जाती है, जितने ज्‍यादा pixel और megapixel उतना अच्‍छा, लेकिन क्‍या आपने कभी आपने सोचा है कि आखिर यह पिक्‍सल और मेगा पिक्‍सल होते क्‍या हैं, अगर नहीं तो अब भी कौन सी देर हुई है, आइये जानने की कोशिश करते हैं -

चलिये शुरू से शुरू करते हैं आज से 4 या 5 साल पहले के जो कैमरे आते थे, उनसे लिये गये फोटोग्राफ की डिटेल इतनी अच्‍छी नहीं होती थी जितनी आज के कैमरे से खीचें गये फोटो की, अब सीधी से बात है आप कहेगें कि उस समय कम पिक्‍सल के कैमरे होते थे, लेकिन आखिर पिक्‍सल कम होने से फोटो की डिटेल पर ही प्रभाव क्‍यों पडता है, कभी सोचा है 

असल में pixel से ही मिलकर हमारे कम्‍प्‍यूटर, टीवी या मोबाइल की स्‍क्रीन बनी होती है, अगर सही शब्‍दों में कहें तो पिक्‍सल किसी भी स्‍क्रीन या फोटो की सबसे छोटी इकाई होता है, कोई भी फोटो या स्‍क्रीन इन्‍हीं पिक्‍सल से मिलकर बनी होती है

अगर आप अपने घर के टीवी स्‍क्रीन को मेगाफाइन ग्‍लास से देखेगें तो आपको छोटे-छोटे रंगीन ब्‍लाक दिखाई देगें, इन्‍हीं ब्‍लाक से मिलकर सभी चिञ और रंग बनते हैं, अगर आपके घर पर अगर इंकजैट प्रिन्‍टर है तो आपको पता होगा कि उसमें केवल तीन रंगों का ही प्रयोग होता है, आपका प्रिन्‍टर इन्‍हीं तीन रंगों को मिलाकर कोई भी रंगीन चिञ पलभर में तैयार कर देता है, प्रिटिंग करते समय आपके प्रिन्‍टर द्वारा कार्टेज से रंगों को स्‍प्रे किया जाता है, जिससे रंग छोटे महीन बिन्‍दुओं में कागज पर छपते जाते हैं असल यही पिक्‍सल हैं, 

अब बात आती है कि पिक्‍सल को नापते कैसे हैं और यह 1.0  और 3.1 आदि मेगापिक्‍सल क्‍या होता है असल में 10 लाख पिक्‍सल से मिलकर 1 मेगा पिक्‍सल बनता है, यानि 1 मेगा पिक्‍सल में 10 लाख पिक्‍सल होते हैं, आशा है आप समझ गये होगें पिक्‍सल और मेगा पिक्‍सल के बारे में ......................... 

अगर आप इसी प्रकार के लेख अपने ईमेल पर फ्री में पाना चाहते हैं,
  1. स्‍मार्ट फोन पर  My Big Guide के लेखों को पढने के लिये डाउनलोड करें - My Big Guide android App 
  2. माई बिग गाइड के सदस्‍य बनें -  सदस्‍यता कैसे लेनी है  जानने लिये यहॉ क्लिक कीजिये 
  3. आप हमसे इन सोशल नेटवर्किग वेवसाइट फेसबुकटिटवरगूगल + लिंक्‍डइनRSS पर भी जुड सकते हैं

loading...

हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment

Blogger
  1. आपकी इस प्रस्तुति को कल की बुलेटिन विश्व हिन्दी दिवस और ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

    ReplyDelete