भारत में नवराञ बडे ही धूमधाम से मनाया है, इन नौ दिनों में माता के नौ रूपों की पूजा की विधि विधान के साथ की जाती है। इन दिनों में माता के भजनों को सुनना बडा ही अच्‍छा लगता है, इसलिये आपके लिये कुछ चुनिन्‍दा भजन प्रस्‍तुत हैं, इन्‍हें सुनकर लाभान्वित हो


भोर भई दिन चढ गया मेरी अम्‍बे

अम्‍बे तू है जगदम्‍बे काली

मन तेरा मन्दिर ऑखे दिया बाती

 कभी फुरसत हो तो जगदम्‍बे

तूने मुझे बुलाया शेरावालिये

मन लेके आया माता रानी के भवन में 

मैं परदेसी हॅू पहली बार आया हॅू 

सुनो सुना एक कहानी सुनो

मैं बालक तू माता शेरावालिये 

सबसे बडा तेरा नाम

मैं तो आरती उतारू सन्‍तोषी माता की

यहॉ, वहॉ, जहॉ, तहॉ मत पूछो कहॉ-कहॉ

शेर पे सवार होके आजा शेरावालिये

दया करो मॉ दया करो


अगर यह भजन आपको अच्‍छे लगे तो हमें टिप्‍पणी के माध्‍यम से अवश्‍य अवगत करायें। 
------------------------------------------------------------------------------------------------


अब आप My Big Guide की एप्‍लीकेशन अपने Phone में Free डाउनलोड कर सकते हैं और अपने स्‍मार्ट फोन पर भी My Big Guide के लेखों को पढ सकते हैं - डाउनलोड करने के लिये नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक करें -
अगर आप कोई प्रश्‍न पूछना चाहते हैं तो टिप्‍पणी के माध्‍यम से पूछिये और साथ ही माइ बिग गाइड जॉइन कीजिये, जिससे आगे इसी प्रकार की अन्‍य जानकारियों के अपडेट आपकी ई-मेल आई०डी० पर नि शुल्‍क प्राप्‍त हो जायेगें, माई बिग गाइड के सदस्‍य बनने के लिये धन्‍यवाद

आप हमसे इन सोशल नेटवर्किग वेवसाइट पर भी जुड सकते हैं-

loading...

हमें सोशल मीडिया पर फॉलों करें - Facebook, Twitter, Google+, Pinterest, Linkedin, Youtube
हमारा ग्रुप जॉइन करें - फेसबुक ग्रुप, गूगल ग्रुप अन्‍य FAQ पढें हमारी एड्राइड एप्‍प डाउनलोड करें

Post a Comment

Blogger
  1. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा आज बृहस्पतिवार (10-10-2013) "दोस्ती" (चर्चा मंचःअंक-1394) में "मयंक का कोना" पर भी है!
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का उपयोग किसी पत्रिका में किया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    शारदेय नवरात्रों की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
    Replies
    1. बहुत बहुत आभार, मंयक जी

      Delete
  2. सुबह सवेरे माँ के भजन की बहुत सुन्दर प्रस्तुति के लिए आभार
    घर के कामकाज के साथ माँ के भजन गीत चलते रहे तो काम करने में भी स्फूर्ति बनी रहती हैं
    जय माता रानी की !

    ReplyDelete
    Replies
    1. सराहना करने के लिये धन्‍यवाद कविता जी

      Delete
  3. माँ हि मंदिर माँ हि पुजा

    ReplyDelete